Tag Archives: Philosophical

‘किरमिच’ … ( ‘Canvas of Life’ )

समय कि कूंची चली है यादों के दृश्य बिखरे है जिंदगी के ‘किरमिच’ पर आज कई रंग उभरे है रंगीन कुछ कुछ काले, कुछ निखरे कुछ धुन्धलाये लेकिन सब ऐसे, जैसे दिल खोल के जी आये कई जज़्बात इनमे बोल … Continue reading

Posted in हिन्दी, કાવ્ય | Tagged , , , | Leave a comment