Tag Archives: नयी आश

एक नयी आस- एक नयी आश

मुरझाये हुए दिलों को, डूबते हुए हौंसलों को, सोएं हुए जज्बातों को, बुझते हुए सपनों को, हर एक को- एक ही आस एक नयी आस, एक नयी आश ! सपनों को जो दे नयी उड़ान, जज्बातों मे फूँक दे नयी … Continue reading

Posted in हिन्दी | Tagged , | 3 Comments