एक नयी आस- एक नयी आश

मुरझाये हुए दिलों को,
डूबते हुए हौंसलों को,
सोएं हुए जज्बातों को,
बुझते हुए सपनों को,
हर एक को- एक ही आस
एक नयी आस, एक नयी आश !

सपनों को जो दे नयी उड़ान,
जज्बातों मे फूँक दे नयी जान,
दे हौंसलों को नयी ताकत,
दिलों मे फिर जिंदा-दिली’ के साथ,
हर कोशिश कि कामयाबी के लिए
तेरे और मेरे सपनों के लिए – एक नयी आस !
एक नयी आश!

આ રચનાને શેર કરો..
This entry was posted in हिन्दी and tagged , . Bookmark the permalink.

3 Responses to एक नयी आस- एक नयी आश

  1. નિરાલી says:

    આશા, આશ, आस, आश, Hope.. जीने के लिए सबसे जरुरी सामान! बहोत बढ़िया!

  2. Shabnam Khoja says:

    एक नयी आश.. bahot a66i aash.. like our blog… lively n lovely.. 🙂

  3. અપેક્ષા સોલંકી says:

    सही मायनो में – एक नयी आश!

Leave a Reply